सी बी आई ने बैंक धोखाधड़ी से सम्बन्धित दो अलग-अलग मामलें दर्ज किए एवं तलाशी ली

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 17.12.2020

सी बी आई ने 452.62 करोड़ रु. (लगभग) एवं 72.55 करोड़ रु. (लगभग) की बैंक धोखाधड़ी से सम्बन्धित दो अलग-अलग मामलें दर्ज किए।

पहला मामला, वर्ष 2013 से 2017 की अवधि के दौरान स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया सहित बैंकों के समूह के साथ 452.62 करोड़ रु. (लगभग) की धोखाधड़ी के आरोप पर स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया से प्राप्त शिकायत के आधार पर अहमदाबाद, गुजरात स्थित निजी फर्म तथा इसके निदेशकों और अज्ञात लोक सेवकों एवं अन्य अज्ञातों सहित अन्यों के विरुद्ध मामला दर्ज किया। ऐसा आरोप था  कि वर्ष 2013 से 2017 की अवधि के दौरान, आरोपियों ने स्वम् के द्वारा विभिन्न साख सुविधाओं के विस्तार के मामलें में बैंकों के समूह, जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया, बैंक ऑफ इण्डिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, सेन्ट्रल बैंक ऑफ इण्डिया, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, पंजाब नेशनल बैंक तथा विजया बैंक शामिल है, के साथ जालसाजी/धोखाधड़ी करने के लिए आपराधिक षड़यंत्र किया। उक्त षड़यंत्र के अनुसरण में, आरोपियों ने खाता पुस्तकों में छेड़छाड़/जालसाजी की तथा बैंक की धनराशि को अन्य मद में लगाया/बेईमानी से निकाल लिया और इस प्रकार बैंकों के समूह के साथ 452.62 करोड़ रु. (लगभग) की धोखाधड़ी की।

अहमदाबाद स्थित निजी कम्पनी/निदेशकों के कार्यालय एवं आवासीय परिसरों सहित 04 स्थानों पर आज तलाशी ली जिसमें आपत्तिजनक/दस्तावेज/सामान बरामद हुए।

दूसरा मामला, वर्ष 2017 से 2019 की अवधि के दौरान बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ 72.55 करोड़ रु. (लगभग) की धोखाधड़ी के आरोप पर बैंक ऑफ बड़ौदा से प्राप्त शिकायत के आधार पर गाँधीनगर, गुजरात स्थित निजी कम्पनी तथा इसके निदेशकों और अज्ञात लोक सेवकों एवं अन्य अज्ञातों सहित अन्यों के विरुद्ध मामला दर्ज हुआ।

ऐसा आरोप था कि, वर्ष 2017 से 2019 के दौरान, कम्पनी ने विभिन्न साख सुविधाँए प्राप्त की जो की बढ़ाई गई थी एवं बैंक के द्वारा पुनर्विचारित की गई। ऐसा आगे आरोप था कि खाते में सतत् ओवर ड्राफ्ट (Over draft) तथा साख पत्र की बढ़ोत्तरी के परिणामस्वरुप खाता गैर निष्पादित (एन पी ए) हो गया। ऐसा भी आरोप था कि बैंक की फोरेन्सिक लेखा परीक्षण रिपोर्ट से खाते में अनियमितताओं का पता चला और निदेशकों ने ऋण लाभ को अन्य मद में लगाया/बेईमानी से निकाल लिया, इस प्रकार बैंक को हानि हुई।

गुजरात एवं मुम्बई स्थित निजी कम्पनी/निदेशकों के कार्यालयी तथा आवासीय परिसरों सहित 05 स्थानों पर आज तलाशी ली जिसमें आपत्तिजनक दस्तावेज/सामान बरामद हुए।

********