सीबीआई ने लखनऊ के एक व्‍यापारी के अपहरण एवं मार-पीट आदि की कथित घटना से सम्‍बन्धित मामले की जारी जॉंच में एक आरोपी को गिरफ्तार किया

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 18.07.2019

सीबीआई ने एक मामले की जारी जॉंच में एक आरोपी (पूर्व संसद सदस्‍य के रिश्‍तेदार) को गिरफ्तार किया।

स्‍मरण रहे कि सीबीआई ने माननीय सर्वोच्‍च न्‍यायालय के दिनांक 23.04.2019 के आदेश पर जिला प्रयागराज/ इलाहाबाद निवासी पूर्व संसद सदस्‍य एवं अन्यो के विरूद्ध भारतीय दण्‍ड संहिता की धारा 147, 149, 386, 329, 420, 467, 468, 471, 394, 506 तथा 120 बी के तहत दिनांक 12.06.2019 को मामला दर्ज किया और कृष्‍णा नगर पुलिस स्‍टेशन, लखनऊ में पूर्व में दर्ज प्राथमिक सूचना रिर्पोट संख्‍या 810/ 2018 की जॉंच को अपने हाथों में लिया। प्राथमिक सूचना रिर्पोट में ऐसा आरोप था कि उक्‍त पूर्व संसद सदस्‍य ने लखनऊ के व्‍यापारी से जबरन पैसे की वसूली की। ऐसा आगे आरोप था कि जब व्‍यापारी ने उक्‍त पैसे की मांग का विरोध किया तो पूर्व संसद सदस्‍य के सहयोगियों ने कार द्वारा उसका लखनऊ से अपहरण कर लिया और उसे देवरिया जेल ले जाया गया, जहॉं पर उक्‍त पूर्व संसद सदस्‍य मौजूद था। प्राथमिक सूचना रिर्पोट में ऐसा भी आरोप था कि उक्‍त पूर्व संसद सदस्‍य एवं उसके आदमियों के द्वारा व्‍यापारी को आपराधिक रूप से धमकाया एवं पीटा गया और उसकी सभी चारों फर्मों को उक्‍त पूर्व संसद सदस्‍य के सहयोगियों के नाम पर बल पूर्वक हस्‍तान्‍तरित करवा लिया गया।

पूर्व संसद सदस्‍य; उनके सहयोगियों एवं अन्‍यों के लखनऊ तथा प्रयागराज स्थित 06 परिसरों में कल तलाशी ली गई जिसमें कुछ आपत्तिजनक दस्‍तावेज बरामद हुए। इसके अतिरिक्‍त, 8 लाख रू. (लगभग) का नकद तथा विभिन्‍न बैंक खातों के चेक बुक भी बरामद हुए। आगे की जॉंच जारी है।

गिरफ्तार आरोपी को लखनऊ की सक्षम अदालत के समक्ष आज पेश किया गया एवं न्‍यायिक हिरासत में भेजा गया।

********