व्यापम से सम्बतन्धित मामले में पी.सी.आर.टी-2013 के तीन उम्मी दवार को पॉंच वर्ष की कठोर कारावास

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 12.07.2019

सीबीआई मामलों के विशेष न्या याधीश, भोपाल (मध्यक प्रदेश) ने व्या‍पम से सम्ब न्धित मामले में पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा (पी.सी.आर.टी)-2013 के उम्मीवदवार सर्व श्री नईम अली, अजहरउद्दीन एवं कासिम खान को पॉंच वर्ष की कठोर कारावास की सजा सुनाई।

सीबीआई ने माननीय सर्वोच्चक न्याायालय के दिनांक 09.07.2015 के आदेश के अनुपालन में मध्यो प्रदेश पुलिस से जॉंच को अपने हाथों में लिया। ऐसा आरोप था कि तीन आरोपी उम्मीेदवारों यथा नईम अली, अजहरउद्दीन तथा कासिम खान पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा 2013 में अवैध रूप से चयनित हुए। मध्य प्रदेश पुलिस के द्वारा की गई जॉंच के दौरान, मध्य्स्थ2 व्येक्ति फरार था एवं जॉंच में शामिल नही हो रहा था। मध्यभ प्रदेश पुलिस ने दिनांक 06.04.2015 को आरोपी व्यचक्तियों के विरूद्ध आरोप पत्र दाखिल किया।

जॉंच के दौरान, सीबीआई ने मध्य स्थ, व्यीक्ति का पता लगाया जिसने स्वी कार किया कि उसने उक्तन आरोपी उम्मीधदवारों को एक अन्यद मध्यसस्था व्ययक्ति, के माध्यकम से चयनित करवाया जिसने पी.सी.आर.टी-2013 की लिखित परीक्षा में उपस्थित होने के लिए तीन उम्मी दवारों के लिए परनामधारियों की व्यआवस्थाद की। आगे की जॉच के दौरान, एक अन्यथ मध्य स्थ सड़क दुर्घटना में मृत पाया गया, अत: परनामधारियों का पता नही लग सका।

गहन जॉंच के पश्चाेत, सीबीआई ने पी.सी.आर.टी-2013 के आरोपी उम्मीथदवारों यथा नईम अली, अजहरउद्दीन तथा कासिम खान के विरूद्ध विशेष न्याोयाधीश की अदालत, सीबीआई, व्या पम मामले, भोपाल में दिनांक 25.05.2017 को आरोप पत्र दायर किया।

विचारण अदालत ने आरोपी उम्मी दवारों को दोषी ठहराया एवं मध्य स्थ को बरी किया।

********