सीबीआई ने दो लाख रू. के रिश्‍वत मामले में ई.पी.एफ.ओ के प्रवर्तन अधिकारी तथा परामर्शदाता को गिरफ्तार किया

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 03.06.2019

केन्‍द्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो ने घूसखोरी के मामले में कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (ई.पी.एफ.ओ), उज्‍जैन (मध्‍य प्रदेश) के प्रवर्तन अधिकारी एवं परामर्शदाता (निजि व्‍यक्ति) को गिरफ्तार किया।

भा़रतीय दण्‍ड संहिता की धारा 120-बी एवं भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम,1988 की धारा 7 के तहत एक मामला दर्ज हुआ जिसमें आरोप है कि कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन, उज्‍जैन के उप मण्‍डलीय कार्यालय के प्रवर्तन अधिकारी ने शिकायतकर्ता के विरूद्ध जारी जॉच पड़ताल के मामले को उसके पक्ष में निपटाने के लिए परामर्शदाता (निजि व्‍यक्ति) के माध्‍यम से 5,00,000 रू. की रिश्‍वत मॉंगी। सीबीआई ने जाल बिछाया एवं परामर्शदाता को 2,00,000 रू. की रिश्‍वत स्‍वीकार करने पर पकड़ा। जॉंच के दौरान प्रर्वतन अधिकारी को भी गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के परिसरों में तलाशी ली गई।

दोनो गिरफ्तार आरोपियों को सीबीआई मामलों के विशेष न्‍यायाधीश, इन्‍दौर के समक्ष पेश किया गया और दिनांक 06.06.2019 तक के लिए पुलिस हिरासत में भेजा गया।

********