सीबीआई ने कथित घूसखोरी के मामले में उप मुख्‍य श्रम आयुक्‍त; श्रम प्रवर्तन अधिकारी तथा तीन निजी व्‍यक्तियों को गिरफ्तार किया

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 31.05.2019

सीबीआई ने घूसखोरी के मामले में चण्‍डीगढ़ में कार्यरत उप मुख्‍य श्रम आयुक्‍त; श्रम प्रवर्तन अधिकारी; भटिण्‍डा स्थित निजी एच.आर. सोल्‍यूशन फर्म के दो साझीदारों तथा निजी निर्माण कम्‍पनी के एक कर्मचारी को गिरफ्तार किया।

सीबीआई ने भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, (संशोधित) 2018 की धारा 120-बी एवं 7 तथा 12 के तहत आरोपी व्‍यक्तियों के विरूद्ध मामला दर्ज किया जिसमें आरोपी व्‍यक्तियों यथा श्रम प्रवर्तन अधिकारी,चण्‍डीगढ़ तथा भटिण्‍डा की निजी फर्म के दो साझीदारों के मध्‍य रिश्‍वत राशि का लेन-देन का आरोप है। बाद में सीबीआई घटना स्‍थल पर पहुँची एवं भटिण्‍डा स्थित निजी फर्म के दो साझीदारों द्वारा1,30,000 रू. की रिश्‍वत उक्‍त प्रवर्तन अधिकारी को देने के लिए पकड़ा। इस रिश्‍वत राशि को उप मुख्‍य श्रम आयुक्‍त, चण्‍डीगढ़ की ओर से उक्‍त प्रवर्तन अधिकारी ने स्‍वीकार किया था। ऐसा आगे आरोप था कि निजी निर्माण कम्‍पनी के पक्ष में अनुकूल रिर्पोट एवं भटिण्‍डा स्थित कुछ अन्‍य निजी फर्मों के पक्ष में अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी करने के बदले में रिश्‍वत की पेशकश एवं मॉंग की गई थी। ऐसा भी आरोप था कि ये निजी व्‍यक्ति विभिन्‍न निजी उद्योगपतियों/ व्‍यापारियों/ निजी ठेकेदारों तथा उक्‍त लोक सेवकों के मध्‍य, बातचीत के द्वारा और व्‍यापार/ औद्योगिक प्रतिष्‍ठानों में किए गए निरीक्षणों के मामलें में राहत पहुँचाने के लिए उनसे पक्षपात करने के बदले में अवैध रिश्‍वत एकत्र करने में मध्‍यस्‍थता का काम करते थे।

आरोपी व्‍यक्तियों के कार्यालीय एवं आवासीय परिसरों में तलाशी ली गई जिसमें दस्‍तावेज बरामद हुए।

गिरफ्तार आरोपियों को मोहाली (पंजाब) की क्षेत्राधिकार न्‍यायालय में आज पेश किया जाएगा।

********