सीबीआई ने 14 लाख रू. की रिश्‍वत के मामले में दो आयकर अधिकारियों को गिरफ्तार किया एवं तलाशी के दौरान 1.65 करोड़ रू. (लगभग) का नकद बरामद किया

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 04.04.2019

सीबीआई ने 14 लाख रू. की रिश्‍वत के मामले में कोरामंगला, बंगलौर के वार्ड7(1) (4) एवं वार्ड 7(1) (3) में कार्यरत दो आयकर अधिकारियों को गिरफ्तार किया।

निजी कम्‍पनी के प्रबन्‍ध निदेशक से प्राप्‍त शिकायत पर भारतीय दण्‍ड संहिता की धारा 120-बी एवं भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, 1988 (वर्ष 2018 में संशोधित) की धारा 7 के तहत कोरामंगला ,बंगलौर के वार्ड 7(1)(4) के आयकर अधिकारी एवं वार्ड 7(1)(3) के एक अन्‍य आयकर अधिकारी के विरूद्ध दिनांक 03.04.2019 को मामला दर्ज हुआ। ऐसा आरोप था कि आरोपी व्‍यक्तियों ने 06.03.2019 को शिकायतकर्ता के कार्यालयी परिसर में किए गए आयकर सर्वे से सम्‍बन्धित मामले को निपटाने के लिए पक्षपात करने हेतु उनसे 14,00,000 रू. की अवैध रिश्‍वत की मॉंग की तथा उक्‍त रिश्‍वत राशि को 03.04.2019 की शाम को देने के लिए कहा।

सीबीआई ने जाल बिछाया एवं कोरामंगला, बंगलौर के वार्ड 7(1)(4) में कार्यरत आयकर अधिकारी को स्‍वम् के लिए एवं एक अन्‍य आयकर अधिकारी के लिए शिकायतकर्ता से 14,00,000 रू. की रिश्‍वत स्‍वीकार करने के दौरान रंगे हाथ पकड़ा। दोनो आरोपियों के आवासीय एवं कार्यालयी परिसरों में तलाशी ली गई। वार्ड 7(1)(4) में कार्यरत आयकर अधिकारी के परिसर व लॉकर से 1.65 करोड़ रू. (लगभग) का नकद और 1450 अमेरिकन डालर बरामद हुए। इसके अतिरिक्‍त सम्‍पत्ति, निवेश व मामले से सम्‍बन्धित कई आपत्तिजनक दस्‍तावेज और मोबाइल फोन्‍स, पेन ड्राइव्‍स आदि तलाशी के दौरान बरामद हुए। जॉंच के दौरान, वार्ड 7(1)(3) में कार्यरत अन्‍य आयकर अधिकारी भी गिरफ्तार हुआ।

गिरफ्तार आरोपी को बंगलौर की सक्षम अदालत के समक्ष आज पेश किया जा रहा है।

********