सीबीआई ने मुम्‍बई की तीन निजी कम्‍पनियों, बैंक कर्मियों तथा अन्‍यों के विरूद्ध मामले दर्ज किए व तलाशी ली

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 10.07.2018

  सीबीआई ने भारतीय दण्‍ड संहिता की धारा 120-बी, 420 तथा भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 13(2) के साथ पठित धारा 13(1)(डी) के तहत मुम्‍बई स्थित तीन कम्‍पनियों ; इनके कर्मियों ; स्‍टेट बैंक ऑफ इण्डिया के कुछ बैंक कर्मियों तथा अज्ञात कर्मियों और निजी व्‍यक्तियों के विरूद्ध तीन मामले दर्ज किए। उक्‍त तीन निजी कम्‍पनियों के द्वारा की गई जालसाजी के कारण स्‍टेट बैंक ऑफ इण्डिया को 56.81 करोड़ रू. (लगभग) ; 49.99 करोड़ रू. (लगभग) तथा 30.13 करोड़ रू.(लगभग) की कथित हानि हुई।

ऐसा आरोप था कि उक्‍त निजी कम्‍पनियों ने स्‍टेट बैंक ऑफ इण्डिया, डी.एन. रोड शाखा तथा पी.एम. रोड शाखा, फोर्ट, मुम्‍बई के द्वारा जारी साख पत्रों के विरूद्ध बिल डिस्‍काउन्टिग (Bill Discouding) की सुविधा प्राप्‍त की। हालॉंकि, इन बिलों को सम्‍बन्धित बैंकों के द्वारा अभुक्‍त (Unpaid) वापस कर दिया गया, चूकि ऐसा पाया गया कि ये गतिविधियों कम्‍पनियों के द्वारा धनराशि को अन्‍य मद में लगाने तथा मिथ्‍या प्रस्‍तुति का उदाहारण हैं। बैंको के द्वारा की गई आन्‍तरिक जॉंच पड़ताल से अनियमिताओं का भी खुलासा हुआ जिसमें कई इनवायसेज को पेश करना, लॉंरी की जाली रशीदें जिनमें वाहन पंजीकरण गलत दर्शाया गया तथा भारी समान परिवहन वाले वाहनों के बजाए अन्‍य वाहनों को परिवहन के साधनों के तौर पर दर्शाया जाना शामिल था।

आरोपियों के कार्यालयी एवं आवासीय परिसरों सहित मुम्‍बई, रायगढ़, मालेगॉंव, अमरावती में 17 स्‍थानोंपर तलाशी की गई जिसमें आपत्तिजनक दस्‍तावेज बरामद हुए।

आगे की जॉंच जारी है।

********