घूसखोरी के मामले में रेलवे के तत्‍कालीन कार्यकारी अभियन्‍ता को तीन वर्ष की कठोर कारावास

प्रेस विज्ञप्ति
नई दिल्ली, 08.05.2018

सीबीआई मामलों के विशेष न्यायाधीश, भोपाल ने घूसखोरी के मामले में पश्चिम मध्‍य रेलवे, भोपाल (मध्‍य प्रदेश) के तत्‍कालीन कार्यकारी अभियन्‍ता श्री एस.बी. शर्मा को 30,000 रू. के जुर्माने सहित तीन वर्ष की कठोर कारावास की सजा सुनाई।

सीबीआई ने भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 7 के तहत ट्रैक मशीन डिपों, पश्चिम मध्‍य रेलवे, भोपाल के कार्यकारी अभियन्‍ता श्री एस.बी. शर्मा के विरूद्ध शिकायत पर दिनांक 22.05.2010 को मामला दर्ज किया जिसमें हबीबगंज स्थित ट्रैक मशीन डिपो में शेड के विस्‍तार से सम्‍बन्धित कार्य के बदले में जारी 84 लाख रू. की धनराशि के बिलों पर 1% की दर से एवं शिकायतकर्ता के अभुक्‍त (UNPAID) तथा अगामी बिलों के भुगतान करने के लिए घूस की मॉंग का आरोप है। सीबीआई ने दिनांक 22.05.2010 को जाल बिछाया एवं आरोपी को शिकायतकर्ता के निवास पर 50,000 रू. की घूस की मॉंग व स्‍वीकार करने के दौरान रंगे हाथ पकड़ा।

जॉंच के पूर्ण होने के बाद, सीबीआई मामलों के विशेष न्यायाधीश की अदालत, भोपाल में दिनांक 30.12.2010 को आरोप पत्र दायर किया गया।

 

विचारण अदालत ने आरोपी को कसूरवार पाया व उन्‍हें दोषी ठहराया।

********